करोना पर हिंदी कविता। कोरोना का ये काल है।

Hindi Poem on Corona

hindi poem on corona , corona pe kavita in hindi

  कोरोना पे हिंदी कविता


करोना का ये काल है
जिंदगी बेहाल है। 
लड़ रहा है हर कोई 
जीने का सवाल है। 

चल रही है जिंदगी
थम रही है जिंदगी। 
आगे इसके आज तो 
बेदम रही है जिंदगी। 

साथ इसके युद्ध में  
ना शस्त्र है ना ढाल है। 
लड़ रहा है हर कोई 
जीने का सवाल है। 

corona pe sabse achhi kavita, corona pe kavita

 कोरोना पे हिंदी कविता


मौत भी तड़प रही है
कौन सा ये दृश्य है। 
कर दिया लाचार है
जो दुशमन अदृश्य है। 

कुदरत ने रूप आज
धर रखी विकराल है। 
लड़ रहा है हर कोई 
जीने का सवाल है।

आज सभी अपने भी
अपनों से दूर है 
घर में ही रहने को 
दुनिया मजबूर है 

सड़के वीरान और 
सुनी चौपाल है। 
लड़ रहा है हर कोई 
जीने का सवाल है।


covid19 pe hindi kavita, noble corona pe hindi kavita

 कोरोना पे हिंदी कविता


दर्द में है दुनिया ये 
मुश्किलों का दौर है। 
माने तू या माने न
ये वक्त ही कुछ और है।

खौफ के इस मंजर में
होश न ख्याल है। 
लड़ रहा है हर कोई 
जीने का सवाल है।

**********
*************

Home         List of all Poems


कविता का उद्देश्य एवं संक्षिप्त विवरण

यह वास्तविकता पे आधारित एक हिंदी कविता है जिसमे आज के दृश्य को दर्शाया गया है। आज एक अदृश्य Virus ने पुरे विश्व को अपने गिरफ्त में ले रखा है। लगभग सभी देश इससे ग्रसित है तथा हर व्यक्ति भय के माहौल में जीने को मजबूर है। करोड़ो लोग इससे संक्रमित हो चुके है और लाखो लोगो की  दुखद मृत्यु हो चुकी है। दुनिया भर के डॉक्टर दवा और वैक्सीन बनाने में दिन रात लगे हुए है लेकिन दवा बनते बनते ना जाने कितने लोग और इस Corona रूपी राक्षस के मुँह में समा जायेंगे,  ये सोच कर ही शरीर कांप जाता है लेकिन ये कटु सत्य है।

आज जिंदगी एक अदृश्य दुश्मन से खुद ही लड़ रही है और कही जीत रही है तो कही हार कर थम रही है। आज इंसान इसके आगे मजबूर है क्योंकी दुर्भाग्य से उसके हाथ में इससे लड़ने के लिए अभी तक कोई हथियार नहीं है और इसी विवशता ने हर व्यक्ति को डर के साये में जीने को विवश कर रखा है। 


पुरे मानव जाती पे ये कुदरत का एक कठोर प्रहार है किन्तु गहन चिंतन करने पे ये महसूस होता है कि कुदरत के इस कठोरता के पीछे कही ना कही हम इंसान ही जिम्मेदार है। इंसान आज अपनी सीमाओं से परे होकर अपने स्वार्थ के लिए ऐसे-ऐसे कार्य करने लगा जो किसी भी स्थिति में न तो प्रकृति के लिए ठीक है न हम इंसानों के लिए।

प्रत्येक देश अपनी रक्षा के लिए आज ऐसे ऐसे हथियार बना लिए जो पूरी पृथ्वी का विनाश कर सकते है। कहने को तो ये अपने देश की रक्षा में है लेकिन यदि युद्ध में ऐसे हथियारों का प्रयोग किया गया और इसके प्रभाव से मानव जाती का ही विनाश हो गया तो फिर कौन किससे, किसकी रक्षा करेगा। यह गंभीर विषय है और इसपे अब लोगो को जरूर चिंतन करनी चाहिए। 


बहोत कम लोग ही इस बात को समझते है और ज़्यदातर लोग आज भी अपने निहित स्वार्थ के लिए कुछ भी करने को तैयार है चाहे उससे भविष्य ही खतरे में क्यों न पड़ जाये। आज लोग अपनी अगली पीढ़ी के बारे में भी नहीं सोचते कि हमारे थोड़े से स्वार्थ कि वजह से उन्हें कितनी मुसीबत उठानी पड़ सकती है। 

लोग स्वार्थी होने के साथ साथ आज दयाहीन भी हो गए है। जिस प्रकार इंसान अपने फायदे के लिए निर्दोष जीवों कि निर्दयता से हत्या करता है उसे देख कर रूह कांप उठती है। और शायद यही कारण है कि आज विश्व कि स्थिति इतनी भयावह है। 

इंसान को अब समझना ही होगा कि ये धरती सिर्फ इंसानों कि ही नहीं है यह धरती उन लाखो जीवों की भी है जो इंसानों का कभी नुकशान नहीं पहुंचना चाहते। वो अपनी अलग दुनिया में सुखी जीवन व्यतीत करते है किन्तु इंसान ही उनकी दुनिया में जाकर अपने निहित स्वार्थ के लिए उनका जीवन कष्टदायक बना देता है। 

👇 Big discount offers Click to check price 👇


   


यदि इंसान अब भी नहीं सम्भला और ऐसे ही इन मासूमो को कष्ट देता रहा तो निश्चित ही प्रकृति और रूद्र रूप धारण करेंगी तथा इसका परिणाम इंसानों को भुगतना पड़ेगा। यह परिणाम बहोत ही भयावह होगा जो इंसानों के अस्तित्व का निर्णय करेगा और शायद धरती से इंसानों का अस्तित्व ही मिट जाये। तो अब इंसान को सम्भल जाना ही बेहतर होगा नहीं तो आगे जो कुछ  भी होगा उसका जिम्मेदार स्वयं इंसान ही होगा। 

यह एक वास्तविकता पर आधारित कविता है जिसमे आज कि सच्चाई आपके सामने रखा गया है। निचे कुछ प्रेरणादायक कविताएं है जिन्हे आपको अवश्य पढ़नी चाहिए। ये कविताएं आपको जीवन में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करेंगी तथा इन कविताओं के हमेशा अध्यन करने से आप अपने जीवन में अविश्वसनीय परिवर्तन महसूस करेंगे।

List of Hindi Motivational Poems













👇 Set up your home office Work from home👇

       

Click on product to check price👆

Comments

Post a Comment

Popular posts from this blog

हौसला एवं उत्साह बढ़ाने वाली कविता। जज्बे से वक्त को बदलने की हमें आदत है।

हौसला बढ़ाने वाली प्रेरणादायक कविता। हार कभी न होती है।

आत्मविश्वास बढ़ाने वाली हिन्दी प्रेरक कविता। है यकीन खुद पे जिन्हें ।

हिम्मत बढ़ाने वाली हिंदी प्रेरक कविता। कश्ती अगर हो छोटी तो।

उत्साह बढ़ाने वाली प्रेरणादायक कविता ।दिल में और जीने की अरमान अभी तो बाकी है।

जीवन बदलने वाली हिंदी प्रेरक कविता। मेहनत व्यर्थ न जाती है।